Home Blogging SEO Beginners Guide – एसईओ क्या हैं कैसे काम करता है?

SEO Beginners Guide – एसईओ क्या हैं कैसे काम करता है?

1

Beginners Guide Hindi Mein –

SEO Beginners Guide –  SEO क्या हैं और यह किस तरह काम करता हैं?  नमस्कार, आज के इस पोस्ट में हम एसईओ के बारे में बात करने वाले हैं, इसकी पूरी जानकारी मैं आज के इस पोस्ट में बताऊंगा.
SEO Beginners Guide -  SEO क्या हैं और यह किस तरह काम करता हैं?  
SEO का फुल फॉर्म – Search Engine Optimization हैं. किसी भी वेबसाइट के लिए सबसे जरूरी होता हैं की उसकी SEO अच्छी हो। किसी भी वेबसाइट की सफलता का राज एसईओ ही होता हैं इसके बिना किसी भी वेबसाइट का सफल होना लगभग नामुमकिन ही होता हैं.

 

Read – What is Backlinks kya hai और ये SEO के लिए क्यों जरूरी हैं

 

दुनिया मे नजाने हर रोज कितनी ही वेबसाइट्स बनती और डिलीट होती हैं, पर जो Google, Yahoo, Bing और अन्य Search Engines में पहले पेज के पहले नंबर पर दिखती हैं वही चलती हैं. ऐसी बहुत ही वेबसाइट्स है, जो Google के First Page पर Rank कर रही हैं और इसका पूरा क्रेडिट SEO को जाता हैं वो चाहे E-Commerce Website हो या कोई Normal Website हो।

What Is (Search Engine Optimization) SEO क्या हैं ?

अगर SEO को Simple भाषा मे समझे तो किसी भी वेबसाइट या पोस्ट को इस तरह लिखना या सुधार करना कि वो वेबसाइट या पोस्ट Google या किसी भी सर्च इंजन के पहले पेज पर Show होने लगे ये SEO कहलाता हैं.

 

कोई भी Search Engine में जब कोई यूज़र कोई कीवर्ड डालकर सर्च करता हैं और उस कीवर्ड पर अगर आपका कोई पोस्ट है और उसका SEO अच्छा हैं तो आपके पोस्ट पर ही ज्यादा क्लिक होने के चांसेस होते हैं, किसी भी सर्च इंजन से अलग-अलग कीवर्ड लोग सर्च करके ही यूज़र्स किसी भी वेबसाइट तक पहुँचते हैं।

 

Google इसका सबसे बड़ा स्रोत है, ऐसे ही अन्य बहुत से सर्च इंजन है जैसे Yahoo, Bing और Yandex जिनका काम पर मौजूद सभी Web Pages में से यूज़र्स के लिए सबसे अच्छे Web Pages (Post) को उपलब्ध करवाता हैं, Search Engines का सबसे बड़ा काम यही होता है कि वो अपने यूज़र्स को इंटनेट की सबसे अच्छी रिजल्ट्स को दिखाए जो यूज़र ने सर्च किया हैं.

 

Read – CPC, CPM, CTR Aur CPA Kya hai ? और इसे कैसे Count करते हैं – Google Adsense

 

इस काम को करने के लिए सभी Search Engines के पास अपने सर्च इंजन बोट्स और करावल्र्स होते हैं जो कि विभिन्न बातों और (Search Algorithm) का ध्यान रखते हुए सर्च किए गए शब्दो से जुड़ी सबसे अच्छे पोस्ट और WebPage को दिखाता हैं।

 

वेबसाइट या किसी पोस्ट की Ranking में बहुत से Factors मदद करते हैं और ये इसी पर निर्भर करता है जिनकी वजह से हमारी वेवसाइट और पोस्ट Google और बाकी सभी सर्च इंजन में Show होती हैं.

Website/Post Ranking Factors – SEO

Why seo is important for ranking

 

  • Website की डिज़ाइन और वो कितना फ़ास्ट ओपन होता हैं
  • आपके Post की Quality Content
  • कीवर्ड्स का सही यूज़ (पोस्ट का सर्च किये गए वर्ड से संबंध)
  • यूज़र्स द्वारा वेबसाइट को पसंद किए जाना
  • वेबसाइट की लिंक को सोशल साइट्स पर शेयरिंग
  • यूज़र्स द्वारा वेबसाइट पर अपना ज्यादा समय बिताना
  • आपके पोस्ट को लिखने का तरीका
  • SEO Friendly Post को लिखना
  • और आपके वेबसाइट या उसके पेज के कितने Backlinks हैं Etc..

 

ये सभी फैक्टर्स आपकी रैंकिंग को तय करते हैं, आप जितना ज्यादा
इनका ध्यान रखेंगे आपको उतनी अच्छी Google और बाकी सभी सर्च इंजन में रैंकिंग मिलेंगी। और भी बहुत सी बातें हैं जिसे हम आगे समझेंगें – Keep Reading

कोई भी सर्च इंजन कैसे काम करता हैं – How Search Engine Works :

अगर आप Search Engine Optimization को अच्छे से समझना चाहते हैं तो आपको पहले ये समझना चाहिए कि सर्च इंजन काम कैसे करता हैं। जैसा कि जानते हैं कि Internet पर एक ही विषय से जुड़ी हुई बहुत से वेब पेजेस होते हैं लेकिन जब हम Google Search Box में टाइप करते हैं तो गूगल भी उसी से संबंधित उन Web Pages को ही दिखता है जो SEO में सबसे अच्छे होते हैं।

 

किसी भी सर्च इंजन का काम ही यही होता है कि वो इंटरनेट पर मौजूद करोड़ों Web Pages को स्कैन करके सबसे बेहतरीन और अच्छे परिणामों को सबसे पहले दिखाए, और ऐसा करने के लिए Search Engine अलग-अलग Algorithms का उपयोग करते हैं।

 

ये कहना मुश्किल नही होगा की ये काम कुछ सेकेंड्स में हो जाता हैं और आपने ध्यान दिया होगा कि जब Google में कुछ सर्च करने के बाद रिजल्ट्स दिखाते समय गूगल ये बताता है कि उसने कितनी जल्दी Search Query को दिखाया हैं। तो चलिए अब समझते हैं ये काम कैसे करता हैं –

Web Page Crawling –

फर्स्ट किसी भी Search Engine में इनके Bots या Software के द्वारा इंटरनेट पर मौजूद अरबो-खरबो वेब पेजेस को Scan करके सभी वेबसाइट के पेजेस की पूरी जानकारी इकट्ठा करते हैं ताकि वो समझ सके कि उस पेज पर क्या और क्या लिखा हैं। इस प्रक्रिया को Crawling कहते हैं।

Indexing और Ranking –

Crawling की प्रक्रिया के बाद बारी आती हैं, पोस्ट या पेज की रैंकिंग की इस प्रक्रिया में सभी पेजेस को विभिन्न प्रकार से रैंकिंग देकर उनकी Indexing की जाती हैं, ताकि वो Search Results में show हो सकें। और जैसा कि मैंने पहले बताया था कि वेबसाइट या उसके पेज की रैंकिंग के लिए सही ढंग से इस्तेमाल Keywords, Content Quality, Reliability, Website/Page Backlinks जैसी बहुत सी बातों का Search Engine Algorithms ध्यान में रखते हैं ताकि किसी भी यूज़र द्वारा Search किए गए Query से संबंधित सबसे अच्छी Quality के पोस्ट ही show हो सकें।

Search Query & Results –

जब भी कोई यूज़र Google या किसी भी सर्च इंजन पर कुछ भी सर्च करता है तो सर्च इंजन चन्द सेकेंडो में ही Index किये गए Web Pages में से सबसे पहले Relevant पेजेस को यूज़र के सामने Show कर देता हैं।

Search Ingine Optimization क्यों जरूरी होता हैं – SEO Beginners Guide

seo search engine optimization kaise kare
किसी भी वेबसाइट के लिए SEO बहुत Important है क्योंकि किसी भी वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक सर्च इंजन के जरिए ही आते हैं, इसलिए सभी वेबसाइट्स के लिए सर्च इंजन में पहले पेज पर दिखना बहुत जरूरी हैं और इसके लिए जरूरी ये है कि किसी भी Search Engine में आपके वेबसाइट या उसका पेज सही ढंग से Index हो।

 

Search Engine अच्छे रिजल्ट्स को दिखाने के लिए बहुत से तरीको का उपयोग करता हैं जिसमे Crawling, Indexing & Ranking फिर रिजल्ट्स को दिखाता हैं, ये पूरी प्रक्रिया Automated Software की मदद से होती हैं। अगर कोई वेबसाइट SEO का उपयोग नही करता हैं तो Google या अन्य Search Ingine ‘Bots’ के लिए वेबसाइट और उसके पेज को समझना मुश्किल हो जाता है और जिसकी वजह से Website सभी Search Ingine में नही आ पाती और गूगल सर्च से ट्रैफिक मिलना मुश्किल हो जाता हैं।

 

इसलिए SEO का मुख्य मकसद Website को Search Engine Friendly बनाने से हैं ताकि सर्च इंजन वेबसाइट ओर मजूद सभी कंटेंट्स को सही ढंग से समझ सके और उसे सर्च इंजन में दिख सकें।

 

Search Engine Optimization को समझना ना ज्यादा कठिन है और ना ही आसान पर आप छोटी-छोटी बातों का ध्यान रख कर अपने वेबसाइट को SEO Friendly बना सकते हैं।

 

For Example :- जब आप अपना Domain Buy करते हैं तो Apne Niche से रिलेटेड ही खरीदें जिस से जुड़ी बातें आप अपनी वेबसाइट पर डालने वाले हैं, कई लोग अपने नाम पर Domain खरीद लेते हैं।

On-Page SEO क्या हैं – What Is On-Page SEO?

On Page Seo को अपने वेबसाइट के अंदर काम करने को कहते हैं इसमे Post और Website को सही ढंग से बदलाव और सुधार करके Seo Friendly बनाते है। जैसे किसी भी Post को लिखते समय उसकी Quality पर ध्यान देना उसमे H1, H2 हेडिंग का सही ढंग से इस्तेमाल करना, हैडिंग में पोस्ट से रिलेटेड Long Tail Keyword का इस्तेमाल करना, Post का Title और पोस्ट को अट्रैक्टिव बनाना, और साथ ही Permalink का ध्यान रखना ये बहुत सी बातें है जिनका ध्यान रखना पड़ता हैं।

Off-Page SEO क्या हैं – What Is Off-Page SEO?

Off Page Seo में हम वेबसाइट के बाहर करने को कहते हैं। जब आप एक पोस्ट लिख लेते हैं तो वो तुरंत ही सर्च इंजन में नही दिखती है इसलिए इसके साथ आपको अपने पोस्ट की परमोशन के तौर पर वेबसाइट के लिंक या पोस्ट के लिंक को अलग-अलग Social Networking Sites जैसे – Facebook, Twitter, LinkedIn, Stumble Upon, Reddit जैसे साइट्स पर शेयर करना या अपने वेबसाइट के लिंक को Directory Submissions साइट्स में सबमिट करना Off Page SEO कहलाता हैं।

 

मुझे उम्मीद है अभी तक आप सब समझ चुके होंगे इस – SEO Beginners Guide में आशा रखता है आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी, अगर आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ #Share जरूर करें। धन्यवाद।।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here