Home Extra Learning इंटरनेट के Surface Web, Deep Web And Dark Web Kya hai? Explained...

इंटरनेट के Surface Web, Deep Web And Dark Web Kya hai? Explained In Hindi

SHARE

Surface Web, Deep Web And Dark Web Kya hai हिंदी में पूरी जानकारी –

 Surface Web, Deep Web, And Dark Web Kya hota hai, Explained in hindi
नमस्कार, Internet इसको हम एक पल के लिए भी नही छोड़ पाते हैं और हम हर पल इस से जुड़े रहते हैं, और आज मैं आपको से जुड़े कुछ ऐसे तथ्य और इसकी इंटरनल जानकारियो को बताने वाला हु कि Surface Web, Deep Web And
Read Some Tips & Tricks –

 

वैसे तो आप हर पल इंटरनेट से जुड़े रहते है और हम सब जानते है कि इंटरनेट एक बहुत बड़ा जाल है और यह इतनी बड़े हिस्से में फैला हुआ जिसे आप शायद ही कभी पूरा इस्तेमाल कर सकेंगे. यह इतने बड़े हिस्से में फैला हुआ है जिसके बारे में आप सोच भी नही सकते हैं.

 

आप जो Google, Yahoo, Bing में सर्च करते हैं, और आप जिन वेबसाइट्स को एक्सीस कर पाते हैं, वह सभी सर्च इंजन में आसानी से मिल जाता हैं। पर कुछ ऐसे भी साइट्स है जिसको आप किसी भी Search Engine में सर्च करके उन तक नही पहोंच सकते हैं, तो चलिए अब पूरी बात को समझते है बिना ज्यादा समय गवाएं।

 

Note :- पोस्ट पढ़ने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि यह पोस्ट सिर्फ आपको नॉलेज देने के लिए लिखा गया हैं, कृपया इस पोस्ट को समझे पर किसी भी तरह का गलत कार्य न करें।

Internet के Surface Web, Deep Web And Dark Web Kya hai ?

इंटरनेट के इन हिस्सो को 3 निम्नलिखित भागों में बंटा गया हैं –
  1. Surface Web Internet
  2. Deep Web Internet
  3. Dark Web Internet
इन को तीन हिस्सों में इसलिए बांटा गया है ताकि मैं और आप इसको सही ढंग से समझ सकें, तो चलिए पहले Suface Web के बारे में समझते हैं।

Intenet पर Surface Web क्या हैं और इसको Surface Web क्यों कहते हैं?

What is the Surface Web Explained in hind
Surface Web : जिसको Visible Web या Clearnet भी कहते हैं जो कि Searching के लिए Indexable होता हैं, यह हर किसी के विज़िबल होता है जिसे कोई भी यूज़र आसानी से एक्सीस कर सकता हैं। यह www. यानी World Wide Web का एक हिस्सा हैं, इसे किसी भी सर्च इंजन द्वारा सर्च करके एक्सीस किया जा सकता हैं। अगर इसको आसान भाषा मे समझे तो यह वह हिस्सा है जिसको यूज़ करने के लिए किसी से कोई सपेशल पेरमिशन्स की जरूरत नही पड़ती है यह एक Open Source है जिसे कोई भी यूज़र आसानी से कभी भी कही से भी एक्सीस कर सकता हैं।

 

For Example – आप जो भी Google या Yahoo पर सर्च करते है और जो आपके सर्च से रिलेटेड साइट्स आती है वह Surface Web का हिस्सा होती हैं।

 

सायद आप यह बात न जानते हो की Surface Web पूरे Internet का सिर्फ 5% के हिस्से के करीब ही हैं और लगभग 95% हिस्सा Deep Web और Dark Web के अंदर आता हैं यह एक बहुत बड़ा हिस्सा हैं जिसके बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं।

Deep Web क्या हैं  और इसे डीप वेब क्यों कहते हैं?

Deep Web : इसे हम कई नामो से जाना जाता हैं जैसे – Deep Net, The UnderNet, The Invisible Web और The Hidden Web नाम तो अलग-अलग है पर काम एक ही करता हैं जैसा कि आपको नाम से पता चल रहा होगा कि इसका क्या मतलब है। यह Internet का वो हिस्सा हैं जिसे कोई भी आम यूज़र आसानी से एक्सीस नही कर सकता हैं इसको एक्सीस करने के लिए आपको एक Special URL, Website, Special Server और Address की जरूरत पड़ती हैं, फिर भी आपको इसको एक्सीस करने के लिए Permissions की भी जरूरत पड़ती हैं इसलिए इसको Deep Web कहते हैं।

 

READ -  Google Play Store ke Paid Apps & Games Ko Free Me Download Kaise Kare?

What is the Deep Web Explained in hindi

आपको Permissions उस साइट या उसके डेटा को एक्सीस करने के लिए चाहिए होता है. तभी आप उसको पूरी तरह से एक्सीस कर सकते हैं। Deep Web की जितनी भी Websites हैं, इनके Web Pages कभी भी किसी Search Engine में Index नही होती हैं.

Deep Web किस काम में आता हैं?

Deep Web में किसी भी तरह का डेटा स्टोर किया जा सकता हैं ये Data Confidential भी हो सकता हैं। हो सकता हैं की इसमें किसी बड़ी कंपनी का कोई सीक्रेट डेटा स्टोर ये कोई भी कंपनी हो सकती है उदाहरण के तौर पर Deep Web में किसी Goverment का हो सकता हैं, किसी Organization का हो सकता हैं, हो सकता है कि वो किसी University का हो डेटा तो किसी का भी हो सकता हैं।

 

जितने भी बड़े और इम्पोर्टेन्ट Researches है, जितने भी Databases Stored हैं, बड़े- बड़े Banks के जितने भी इम्पोर्टेन्ट इन्फॉर्मेशन हैं और सरकार के Secret Projects हैं और Files है। वो सब Deep Web के अंदर ही हो सकती हैं कहने के लिए और सोचने के लिए हम कुछ भी सोच सकते हैं, पर ये सभी डेटा कभी भी Google Search Results में आपको नही मिल सकती हैं.

 

Basically मैं अगर Deep Web की बात कर तो हो सकता हैं इसकी जरूरत हमे भी कभी पड़ जाए ये कोई बड़ी बात नही हैं क्योंकि जो डीप वेब हैं इसे कोई भी बना सकता हैं। खैर ये एक अलग टॉपिक हैं।

क्या Deep Web की हमें जरूरत पड़ सकती हैं –

डीप वेब की जरूरत हमको कभी भी पड़ सकती हैं क्योंकि  Internet पर बहुत डेटा को स्टोर करना पड़ता है जिसको हमें कभी भी कही शेयर करने की जरूरत पड़ सकती हैं अगर डेटा Confidential हो तो आप ये चाहेंगे कि आपका डेटा सिर्फ उस तक ही पहोंचे जिसको इसकी जरूरत हैं। आप उस Data चाहेंगे कि Limited लोगो के साथ ही पहुँचे जिसको इसकी जरूरत हैं।

 

For Example के लिए अगर किसी कंपनी को कोई जरूरी डेटा या फ़ाइल जिसे वह चाहती हो कि सिर्फ उसके Employees के साथ ही शेयर करे तो ऐसे में वह कंपनी उस जरूरी Data को Access करने के लिए अपने एम्प्लाइज को उस WebPage का URL देगी जिसमे वह डेटा स्टोर्ड हैं और उसको Authentucating के उसको Login Id और Password देगी ताकि वह उस फ़ाइल को आसानी से एक्सीस कर पाए। ये एक तरीके का Hidden Way हैं जिसकी मदद से कोई भी कंपनी बिना किसी Search Engine को पता चले अपना काम कर पाती हैं।

 

अब तीसरा और आखिरी हैं The Dark Web Internet – चलिए जानते अब इसके बारे में।

Dark Web Internet क्या हैं इसको डार्क वेब क्यों कहते हैं ?

 What is the Dark Web kya hai Explained in hindi
Dark Web : आप इसको पूरा पढ़ने के बाद समझ जाएंगे कि इसको Dark Web क्यों कहते हैं। डार्क वेब इसके नाम से आपको अंदाजा हो गया होगा कि ये Illegal हैं इसलिए इसको Dark Web कहते हैं, यह Internet का वह हिस्सा हैं जो सबसे खतरनाक हैं।

 

Caution :- Dark Web का का कभी भूल से इस्तेमाल ना करें मैं आप से Request करता हूं यह Illegal कार्य हैं।

 

यह हिस्सा Surface Web> Deep Web> के बाद वाली लेयर में आता हैं। यह एक इंटरनेट की दुनिया का काला हिस्सा हैं जहां कोई भी कभी भी कुछ भी कर सकता हैं। यहां कुछ भी होना संभव हैं पर इसको एक्सीस करना उतना ही मुश्किल क्योंकि इन Dark Web की Websites का कोई भी वेब पेज कभी भी कोई भी Search Engine Index नही करता हैं।

What is Dark Web in hindi

ये वेबसाइट्स आपको कभी भी Google Search में नही दिखेंगी पर अगर आप Dark Web को चलाना यानी एक्सीस करना चाहते है तो उसके लिए आपको एक Special Browser की जरूरत पड़ेगी यह PC के लिए हैं जिसका नाम Tor Browser (The Onion Router) हैं। यह ब्राउज़र स्मार्टफोन के लिए भी अवेलेबल हैं जिसको आप प्लेस्टोर पर सर्च करके डाउनलोड कर सकते हैं।

 

आप इस ब्राउज़र की मदद से आप अपने IP Address को हाईड कर सकते हैं अजर अपनी पहचान को सबसे छुपाए रख सकते हैं। ये ब्राउज़र आपको Dark Web को एक्सीस करने की सहूलियत देता हैं। Tor Browser इस काम को करने के लिए बहुत सी IP सर्वर्स को यूज़ करता हैं

Dark Web को क्यों *नही* एक्सीस करना चाहिए –

Dark Web में जितने भी काम होते है सब Illegal होते हैं, इस पर जाने का मतलब हैं कि आपको सभी चीजों खरता रहेगा हो सकता है आप जिस Phone या PC का इस्तेमाल कर रहे हैं डार्क वेब की वजह से वो Hack हो जाए यहां पर कुछ भी संभव हैं। यह पूरी तरह Illegal होने की वजह से इसको Access करने पर आपको सजा भी हो सकती हैं, आप भले ही अपनी IP को छुपा सकते हैं पर पता चलने पर आपको सजा हो सकती हैं।

 

डार्क वेब के अंदर सभी काले काम चलते हैं जिसे दुनिया के सामने से नही कर सकते हैं वो सब यहां पर होता हैं यहां पर Drugs Dealing, Arms & Gun Trading, Gambling, Shooter Hiring, Pornography, Mafiya और भी बहुत कुछ यहां सभी प्रकार का काम होता हैं, ये सिर्फ वो लोग जानते हैं जो इन कामो से जुड़े हुए हैं।

 

मैं उम्मीद करता हु आप सिर्फ इसको Educational तौर पर समझे होंगें, कृपया Dark Web को एक्सीस ना करें यह पूरी तरह Illegal हैं और दंडनीय हैं।
मुझे उम्मीद है कि आप समझ गए होंगे कि Surface Web, Deep Web And Dark Web Kya hai और यह किस तरह काम करता हैं। ऐसे ही नए जानकारियो के लिए यहां आते रहिए, पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद आपका समय शुभ हो।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here