Home Computer tips Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार...

Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं?

SHARE
Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं?
नमस्कार, कैसे है आप सब जैसा कि मैं हमेशा अपने इस की कैटेगरी में आपके लिए ऐसे की Informations लेकर आता हूं और उसी में, मैं आज आप सब से बात करने वाला हु की Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं?

 

जब आप Internet पर कुछ भी सर्च करते है या किसी भी साइट पर विजिट करते हैं तो वह तुरंत अवेलेबल हो जाता हैं पर इसके पीछे भी बहुत सारा प्रोसेस होता हैं। हम सब जानते है कि दुनिया भर में इंटरनेट का जाल बिछा हुआ हैं, और इसके माध्यम से ही यह प्रोसेस पूरा हो पाता हैं।

 

अगर Servers नही होते तो आप तक कोई भी जानकारी पहुचा पाना नामुमकिन सा होता, तो दोस्तों इस पोस्ट में हम सब Server के बारे में जानने वाले हैं कि Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं?

 

Server Kya Hai? हिंदी में –

Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं?
Server : दोस्तो Server एक ऐसा Program या Hardware होता हैं जो अन्य किसी Hardware से या सॉफ्टवेयर के जरिए Request आने का इंतेजार करता हैं और आने के बाद उस पर Process करके उस आये हुए Request पर  Respond करता हैं। किसी भी Server का Main उद्देश्य होता हैं उसके यूज़र्स के बीच Data और सॉफ्टवेयर के संसाधनों यानी Resources को शेयर करना।

 

इसको आप इस तरह समझ सकते हैं कि जब Web Browser हमारे Computer में इंटरनेट से आने वाली डेटा को रिसीव करता हैं ताकि वो हमें उसे दिखा सके उसी प्रकार Servers Data को Share करने का काम करता हैं और हमारा Web Browser सर्वर के द्वारा भेजी गई Data को रिसीव करता है।

 

जिस प्रकार आप अपने पीसी को पर अपने Data को सेव करके रखते हैं ताकि बाद में आप उसको उपयोग में ले सकें। उसी प्रकार यह भी एक तरीके का Computer ही होता हैं, बस फर्क इतना होता है कि वह सिर्फ इसी प्रकार के काम को करने के लिए बनाया गया होता हैं।

 

इसमे किसी भी प्रकार का कंप्यूटर प्रोग्राम हो सकता हैं जिसको इसमे लोड करके रखा गया हो ताकि वो दूसरे कंप्यूटर जिसे उसको एक्सिस (Use) करने की अनुमति हो वो उस तक अपने स्टोर्ड Data और Informations को भेज सकें। इसका काम ही Internet यूज़र्स को अपना सेवा प्रदान करने का होता हैं।

 

यदि हम इसको दूसरी तरह स समझे तो आप YouTube या Facebook का उपयोग तो करते ही होंगे, आप जब Facebook पर किसी की फ़ोटो देखते है या किसी Video को Play करते हैं तो वह आपको वो तुरंत दिखाता हैं, तो यह कैसे होता हैं। आप जब वीडियो प्ले करते है तब यह जहा पर Video Stored होता है वह Server हमे Respond करता है और वो वीडियो प्ले हो जाता हैं।

सर्वर (Server) कैसे काम करता हैं?

Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं?
जैसा कि मैंने अभी मैंने आपको बताया था कि जब हम Youtube पर या Facebook पर कोई वीडियो प्ले करते हैं या इस पर कोई भी काम कर पाते है वो Server की वजह से ही होता हैं। जब आप YouTube पर किसी वीडियो को सर्च करते हैं और उस वीडियो को चलाते है तब वो सर्वर को Request जाता है और सर्वर उसका जवाब देते हुए उस  वीडियो को Play कर देता हैं।

 

Server कैसे काम करता हैं? आप इस तरह भी समझ सकते हैं आप मेरी इस वेबसाइट पर इस पोस्ट को पढ़ पा रहे है, और इस Website पर मौजूद सभी कंटेंट को एक्सिस कर पा रहे है, वो इस Server का ही कमाल हैं। क्योंकि मेरी वेबसाइट भी कही न कही किसी Server जहां मेरे वेबसाइट का सारा Data Hosted हैं, उसकी वजह से यह साइट चल रही हैं और आप तक यह जानकारी पहुच रही हैं।

 

Server के प्रकार (Types Of Server) –

अभी तक तो आपने जाना कि Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं, अब चलिए जानते है कि Server कितने प्रकार के होते हैैं। सर्वर में जो सबसे इम्पोर्टेन्ट सर्वर होता हैं वो हैं –
  • Web Server : जैसा की इसके नाम से पता चलता है कि Web – Server यानी जो Serve करता हैं यह Webserver एक ऐसा प्रोग्राम होता हैं, जो HTTP यानी (Hyper Text Transfer Protocol) का उपयोग करता हैं, जिसमे कई प्रकार के Data स्टोर रहता हैैं।
  • File Server : फ़ाइल सर्वेर यह सिर्फ Files को स्टोर करने के लिए काम मे लिया जाता हैं, इस पर Store किया गया सभी Data नेटवर्क का कोई भी यूजर इस पर Store कर सकता हैं।
  • Mail Server : मेल सर्वर इसका काम Mail करना होता हैं, जो कि कप्यूटर बेस्ड होता है यह एक तरह का वर्चुअल डाकिया होता हैं जो कमांड पर रिस्पांड करता हैं।
  • Cloud Server :  यह कई प्रकार के होतर ही जिसका कार्य अलग-अलग होता हैं और यह विशेष प्रकार के कार्य और हैवी लोड को संभालने के लिए बनाया जाता हैं। यह किसी भी तरह के कार्य को करने के लिए उपयोग में लिया जा सकता यह  वेबसाइट की होस्टिंग में उपयोग में लिया जाता हैं।
  • Print Server : प्रिंट सर्वर यह एक या एक से अधिक प्रिंट नेटवर्क को मैंनेग करता हैं, जो एक ऐसा डिवाइस है जो एक नेटवर्क पर प्रिंट को क्लाइंट के कंप्यूटर से जोड़ता है और कंप्यूटर से प्रिंट जॉब को एक्सेप्ट करता है और जॉब को सभी Printers तक भेजता है।

Server का क्या मतलब हैं यह कैसे कार्य करता हैं?

Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं?
कोई भी Server हमेशा Online यानी हमेशा Working कंडीशन में रहता हैं यह 24×7 अपने काम मे लगा रहता हैं, इसको बनाने के लिए आम तौर पर किसी भी नार्मल कंप्यूटर को उपयोग में नही लिया जाता हैं, और इसके Specifications भी किसी नार्मल Computer से बहुत अलग होते हैं, इसमे सबसे खास जरूरत इनमे लगी Storage और इसके Speed की होती हैं।

 

अगर स्टोरेज और स्पीड कंप्यूटर की बढ़ा भी दी जाए तो वह फिर भी 24×7 काम नही कर पायेगा, Server पर एक समय मे कई सारे लोग जुड़ सकते हैं लेकिन यही काम कोई नार्मल कंप्यूटर एक समय मे इतने सारे लोगो को हैंडल नही कर सकता हैं उसके पास इतनी प्रॉसेसिंग पॉवर नही होती हैं, हालांकि Servers भी होते तो Computer ही हैं पर उसको डिज़ाइन ही ऑनलाइन और पावर लोड को झेलने के लिए ही बनाया जाता हैं।

Conclusion – Final Words

मैंने आपको काफी शॉर्टकट में समझने की कोशीश किया हैैं, अगर कोई बात मुझसे मिस हो गयी हो तो आप कमेंट के जरिए पूछ सकते हैं, तो मुझे उम्मीद है दोस्तो की आपको यह जानकारी पसंद आई होगी और आप समझ गए होंगे कि Server Kya Hai? सर्वर कैसे काम करता हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं? आपको यह पोस्ट कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताएं और साथ ही इसको अपने दोस्तो के साथ शेयर करना न भूले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here