Home Extra Learning 2.5D Curved Glass Kya hai और इसके क्या फ़ायदे हैं –

2.5D Curved Glass Kya hai और इसके क्या फ़ायदे हैं –

SHARE

2.5D Curved Glass Kya hai और इसके क्या फ़ायदे हैं –

हेल्लो, आज के इस पोस्ट में हम बात करने वाले हैं – 2.5D Curved Glass Kya hai. आप जब कोई नया SmartPhone खरीदते है तब उसकी तुलना अपने पुराने किसी स्मार्टफोन से करते हैं. Read – Android Phone Me Recycle Bin Feature Kaise Use kare Computer की तरह 
2.5D Curved Glass kya hai Aur eske kya fayde hai hindi me
आप फ़ोन के किसी फ़ीचर को नही छोड़ते है चाहे वो Processor, Ram हो या Camera, या Memory Storage हो. आप हर चीज की तुलना करते है डिसप्ले से लेकर उसकी Resolution तक। पर पहले से अब की तकनीक में बहुत कुछ बदल चुका हैं, जहा पहले फ़ोन की स्क्रीन टच बहुत कठिन हुआ करती थी जिसे अपने नाखून से टच करना पड़ता था और अब वही आप सॉफ्ट टच करके काम कर लेते हैं।
Read More Latest – 
आप सभी बातों पर तो गौर कर लेते है पर क्या आपने कभी फ़ोन पर लगे ग्लास पर ध्यान दिया हैं, पुराने फोन्स में किस तरीके की ग्लास का उपयोग होता था और अब के फ़ोन्स में कैसे ग्लास का उपयोग हो रहा हैं. तो अब आपको ये समझने की जरूरत हैं कि पहले के फ़ोन्स में लगने वाले और आज के फ़ोन्स में लगने वाले ग्लास तकनीक में बहुत बदलाव आ चुका हैं. जहाँ पुराने फ़ोन में Flat Screen ग्लास का उपयोग होता था वहीं आज के नए फ़ोन में कीमती हो या फिर सस्ता लगभग सभी फ़ोन्स में 2.5D Curved Glass का उपयोग होता हैं।

 

तो चलिए इसके बारे में पूरी जानकारी लेते है और समझते हैं कि 2.5D Curved Glass Kya hai और इसके क्या फायदे हैं।

2.5D Curved Glass kya hai ?

2.5D Curved Glass Display का उपयोग स्क्रीन का ब्राइट और शार्प रखने के लिए यूज़ नही किया जाता है बल्कि यह एक डिज़ाइन का हिस्सा है और इसका उपयोग फ़ोन को और खूबसूरत बनाने के लिए किया जाता है ताकि फ़ोन का डिसप्ले अच्छा लगे। सबसे पहले समझते हैं 2.5D Curved Glass Kya hai? कर्व्ड का मतलब होता है थोड़ा घुमावदार या हिस्सा घुमा हुआ जैसे किसी चीज का हिस्सा साइड से थोड़ा घुमा हुआ.
2.5D Curved Glass kya hai Aur eske kya fayde hai
इसका मतलब यह है कि जहां फ़ोन डिसप्ले उसके बॉडी के साइड वाले हिस्से टच करताहै वहां से ग्लास थोड़ा सा मुड़ा हुआ होता हैं. यह कर्वनेस 2.5D तक कि होती हैं। वहीं 2.5D में “D” का शब्द का अर्थ का मतलब “Diameter” से होता हैं क्योंकि इसके साइड कोने 2.5 Diameter तक घूमे हुए रहते हैं। वही एक नार्मल स्क्रीन में उसके कोने बिल्कुल फ्लैट और शार्प रहते हैं और इन कोनो को टेक्निकली Edge भी कहते है।

 

हालांकि फ़ोन का पूरा डिसप्ले साइड से कर्व्ड नही होता है इसलिए यह नॉर्मली साधारण आखों से इसको पहचान पाना कठिन होता हैं, 2.5D ग्लास में जहां स्क्रीन और बॉडी एक दूसरे से मिलते है वहां पर आप गौर करेंगे तो पाएंगे कि उसके Edge थोड़ी सी घुमावदार हैं, वही तकनीक की मदद से अब के फ़ोन में 3D Glass का उपयोग होने लगा हैं और यह ग्लास 2.5D ग्लास की अपेक्षा में ज्यादा कर्व्ड भी होते हैं।

2.5D Glass कब से प्रचलन में आया –

वही स्मार्टफोन्स में 2.5D कर्व्ड डिसप्ले की शुरुवात पहले महंगे फ़ोन्स से हुई थी लेकिन अब यह लगभग सभी बजट स्मार्टफोन में भी लगने लगी और अभी भी लगती हैं और यही वह वजह है जिसकी वजह से हम आपसे इसके बारे में बात कर रहे हैं। इसकी शुरुवात साल 2011 में Nokia के एक Lumia 800 मॉडल से हुई थी जब इस मॉडल को लांच किया गया था. यह फ़ोन Microsoft Windows “OS” बेस्ड स्मार्टफोन था जिसमे पहली बार 2.5D कर्व्ड ग्लास का उपयोग किया गया था।

 

इसके उपयोग में आते ही Smasung ने अपने पहले Galaxy Note 4 में इसका इस्तेमाल किया और फिर बाद में Google Nexus डिवाइस में देखने को मिला. तब से आज तक इसका उपयोग हो रहा हैं।

2.5D Curved ग्लास के फायदे क्या हैं –

2.5D कर्व्ड ग्लास आपके बहुत तरीको से मदद करता हैं यह टच स्क्रीन उपयोग को एहसास को और बेहतर बनाने के लिए उपयोग में लिया जाता हैं. जब आप फ़ोन को पकड़ते है तो आपके हथेली में कही भी स्क्रीन चुभती नही हैं ये आपको बेहतर एहसास का अनुभव देती हैं। वही जब आप स्क्रीन पर स्वाइप या टच करते है तो इस दौरान Edges पर आपकी फिंगर्स बॉडी में नही लगती हैं बल्कि स्क्रीन से बाहर की ओर चली जाती हैं।
2.5D Curved Glass kya hai Aur eske kya fayde hai
कर्व्ड डिसप्ले होने की वजह से स्मार्टफोन निर्माताओं को बड़ी स्क्रीन के बावजूद फ़ोन को और छोटा-पतला रखने में मदद मिलती हैं क्योंकि फ़ोन को आप पीछे की ओर से पकड़ेंगे तो कर्व्ड डिसप्ले में स्क्रीन बॉडी से थोड़ी ऊपर आ जाती है और आपका हाथ फ़ी स्क्रीन पर नही लगती हैं. Body को Crurved Screen होने की बदौलत आज फ़ोन में बड़ा डिसप्ले होने की बावजूद Edge To Edge डिसप्ले रखना संभव हो पाया हैं

 

2.5D कर्व्ड ग्लास साधारण स्क्रीन के मुकाबले थोड़ा मजबूत भी होता हैं, क्योंकि स्क्रीन को कर्व्ड बनाने की प्रक्रिया बेहद ही मजबूत और सख्त होती हैं वही इस प्रक्रिया में साधारण स्क्रीन टूट जाएगी. इसलिए इसे मजबूत माना जाता हैं। इतने खास गुड़ होने के बावजूद भी इसमे एक खामी निकलती हैं कि इतने मजबूती के बावजूद आपको इसके ऊपर कोर्निंग गोरिल ग्लास चढ़ाना पड़ता हैं।

 

उम्मीद है आपको ये जानकारी पसंद आई होगी और आप समझ गए होंगे कि – 2.5D Curved Glass Kya hai और क्या फायदे है।
READ -  अपने Android फ़ोन से देखे किसी भी smartphone का - Screen mirroring की मदद से (New trick)
SHARE
Previous articleAndroid Phone Me Recycle Bin Feature Kaise Use kare Computer की तरह – Hindi Tips
Next articleLaptop Aur PC Ki Speed Kaise Pata Karen?
Deepak Singh
नमस्ते, मेरा नाम दीपक सिंह हैं और मैं यहां सभी प्रकार की जानकारियां शेयर करता हूं। मैं यहां Latest Tech News, Tech Tips, Tips & Tricks और Blogging से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियो को शेयर करता हूं, आप मुझ से किसी भी तरीके की सहायता के लिए कॉन्टैक्ट फॉर्म से संपर्क कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here